Tokyo Paralympics 2020: डिस्कस थ्रोअर विनोद कुमार से छीना गया कांस्य पदक

Vivek Sharma
Spaka News

टोक्यो में जारी पैरालंपिक खेलों से भारत को लगातार खुशखबरी मिल रही है। भारतीय खिलाड़ी एक के बाद एक पदक अपने नाम कर रहे हैं। हालांकि इन सबके बीच देश को सोमवार को निराशा भी हाथ लगी है। देश की पदकों की झोली में से एक पदक कम हो गया है। 

दरअसल भारतीय डिस्कस थ्रोअर विनोद कुमार के कांस्य पदक को विकार के क्लासीफिकेशन की वजह से अमान्य घोषित कर दिया गया है। विनोद ने रविवार को ही पुरुषों की चक्का फेंक के एफ52 स्पर्धा में कांस्य पदक जीता था लेकिन कुछ देशों द्वारा विरोध जताने पर रिजल्ट को होल्ड पर रख दिया गया था। 

क्या है पूरा मामला
बता दें कि एफ52 स्पर्धा में वो एथलीट हिस्सा लेते हैं जिनकी मांसपेशियों की क्षमता कमजोर होती है और उनके मूवमेंट सीमित होते हैं, हाथों में विकार होता है या पैर की लंबाई में अंतर होता है जिससे खिलाड़ी बैठकर प्रतिस्पर्धा में हिस्सा लेते हैं। आयोजकों ने 22 अगस्त को विनोद का क्लासिफिकेशन किया था। 


Spaka News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

मुख्यमंत्री ने जिला मण्डी के कोटली में 80 करोड़ रुपये की परियोजनाओं के लोकार्पण तथा शिलान्यास किए

Spaka News मुख्यमंत्री ने कोटली में एसडीएम कार्यालय खोलने व पुलिस चौकी कोटली को पुलिस स्टेशन में स्तरोन्नत करने की घोषणा की मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने जिला मण्डी के कोटली में लोगों को सम्बोधित करते हुए क्षेत्र के लोगों को शीघ्र सुविधा प्रदान करने के लिए कोटली में एसडीएम कार्यालय […]